एमएआईटी-इंटेल-डेटामिनी® की ओर से भारत के पहले आधार-समर्थित टैबलेट-आधारित पीओएस सिस्टम- ‘जनउन्नति पैड’ के लॉन्च की घोषणा


टीपीओएस7 जनउन्नति पैड अपनी तरह का पहला इस्तेमाल में आसान और टच-इनेबल्ड मोबाइल उपकरण है, जिसमें आधार कार्ड की सत्यता जांचने के लिए एसटीक्यूसी से मान्यता प्राप्त फिंगरप्रिंट स्कैनर लगा है। इसे डेटामिनी®ने इंटेल कंपनी के तकनीकी सहयोग से बनाया है 

नई दिल्ली – 31 मार्च, 2016 – भारत का प्रमुख आईसीटी हार्डवेयर उद्योग संघ- एमएआईटी, कंप्यूटर तकनीक में दुनिया की शीर्ष कंपनी- इंटेल और भारत के प्रमुख ओईएम में से एक डेटामिनी® ने साथ मिल कर आज  टीपीओएस7 जनउन्नति पैड के लॉन्च की घोषणा की। इसका मकसद सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रमुख योजनाओं, जैसे- ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘मेक इन इंडिया’ का सहयोग करना है। जनउन्नति पैड अपनी तरह का पहला इस्तेमाल में आसान और टच-इनेबल्ड मोबाइल उपकरण है, जिसमें आधार कार्ड की सत्यता जांचने के लिए एसटीक्यूसी से मान्यता प्राप्त फिंगरप्रिंट स्कैनर लगा है।इस तरह इस टैबलेट का इस्तेमाल सरकार के प्रमुख ई-गवर्नेंस प्रयासों को लागू करने में किया जा सकेगा। जैसे कि इसमें लगे फिंगर प्रिंट स्कैनर, पेमेंट कार्ड रीडर और बारकोड स्कैनर के जरिए विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को उनके बैंक बचत खातों से जुड़े आधार कार्ड के माध्यम से डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट्स ट्रांसफर)  किया जा सकेगा। इसका इस्तेमाल ‘प्रधानमंत्री जन-धन योजना’ (पीएमजेडीवाई) में, बैंकिंग सेवाओं को ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के गरीब लोगों तक पहुंचाने, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) की मजदूरी के भुगतान के लिए, ई-पीडीए (जन वितरण प्रणाली) के जरिए बीपीएल परिवारों तक सब्सिडी वाला अनाज पहुंचाने और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के तहत जन स्वास्थ्य सेवाओं की निगरानी जैसे कई कार्यों में भी किया जा सकता है।

डेटामिनी®टीपीओएस7 जनउन्नति पैड का अनावरण आज भारत सरकार के नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अमिताभ कांत के द्वारा किया गया।

इस उपकरण की तस्वीरें प्राप्त करने के लिए यहां क्लिक करें। 

एमएआईटी के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री अनवर शीरपूरवाला ने इंटल-डेटामिनी® के गठबंधन पर टिप्पणी करते हुए और इस लॉन्च समारोह में श्री अमिताभ कांत के शरीक होने पर आभार प्रकट करते हुए कहा, “हम हमेशा ऐसे विचारों को बढ़ावा देते हैं, जो  देश की जनता की जरूरतों को पूरा करता है। जनउन्नति पैड को भारत में ही डिजाइन और विकसित किया गया है। इसलिए यह सीधे तौर पर सरकार के मेक इन इंडिया प्रोग्राम के लक्ष्यों को पूरा करने में अपना योगदान देता है।”

श्री शीरपूरवाला ने यह भी कहा कि, “भारत के आईसीटी हार्डवेयर उद्योग में विकास की अपार संभावनाएं मौजूद हैं, जिससे वह विश्व बाजार में उत्पादों के निर्माण और वितरण का वैश्विक केंद्र बन सकता है। निश्चित तौर पर इसमेंकर अंतर व्यवस्था के तहत प्राप्त होने वाले लाभ का भरपूर इस्तेमाल करते हुए मौजूदा क्षमता का इस्तेमाल और नई इकाइयों की स्थापना का कार्य भी शामिल है। यह मौजूदा लॉन्च इस दिशा में उठाया गया एक छोटा कदम है।”

एमएआईटी की प्रेसिडेंट, इंटेल की दक्षिण एशिया की मैनेजिंग डायरेक्टर और सेल्स एंड मार्केटिंग ग्रुप की वाइस प्रेसिडेंट सुश्री देबजानी घोष ने कहा,”विभिन्न तकनीकी उत्पादों और मंचों का इस्तेमाल करते हुए स्थानीय समाज को सशक्त बनाने के लिए इंटेल सरकार, शिक्षण संस्थानों और समुदायिक संगठनों से सक्रिय रूप से जुड़ता रहा है। इंटेल के आर्किटेक्चर पर आधारित डेटामिनी® जनउन्नति पैड ई-गवर्नेंस सेवाओं की पहुंच को अंतिम व्यक्ति तक ले जाने और इसका विस्तार करने में मदद करता है। इस पैड का लॉन्च होना डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने की दिशा में एक और कदम है” 

सुश्री घोष ने यह भी कहा, “एमएआईटी के नजरिए से हम इस गठबंधन को भारत में नई तकनीक की संस्कृति को बढ़ावा देने के एक अवसर और देश में इंटीग्रेटेड तथा एक छोर से दूसरे छोर तक ईएसडीएम मैन्युफैक्चरिंग का माहौल बनाने के लक्ष्य को हासिल करने की दिशा में एक अहम पड़ाव के तौर पर देखते हैं

डेटामिनी® टेक्नोलॉजी (इंडिया) लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री पितांबर आहूजा ने कहा, “‘डिजिटल इंडियाऔरमेक इन इंडियाकार्यक्रमों के जरिए सरकार की दूरदर्शी सोच उजागर हुई है और यह देश में माहौल सुधारने के लिए एक शुभ संकेत है।  अच्छी किस्म के आईसीटी हार्डवेयर का निर्माण करने की स्थायी पहचान की वजह से हमें पूरा यकीन है कि यह इस तरह के क्रांतिकारी उत्पाद को देश में उतारने के लिए बिल्कुल सही समय है, जो भारत के साथसाथ निर्यात के लिए भी इस्तेमाल में आसान, एप्लिकेशन विशेष से संबंधित व्यवसायिक श्रेणी के टैबलेट की बढ़त मांग को पूरा कर सकता है। हमें इस उत्पाद की सफलता पर पूरा यकीन है और हमारा मकसद निकट भविष्य में इसके फायदों को दूसरे देशों तक पहुंचाना भी है

विशेषताएं संक्षेप में

मॉडल का नाम डेटामिनी® टीपीओएस7 जनउन्नति पैड
रंग काला
डिसप्ले 7″ आईपीएस1024 x 600 पिक्सल
99999+-सीपीयू इंटेल® ऐटम x5-Z8300 प्रोसेसर
रैम जीबी
स्टोरेज 32 जीबी इंटरनल 
(
माइक्रो एसडी कार्ड के साथ 64 जीबीएक्सटरनल)
डब्ल्यूएलएएन 802.11 बी/जी/एन
ब्लूटूथ बीटी 4.0
कैमरा अगला: 2 मेगापिक्सल
पिछला: 5 मेगापिक्सल ऑटो फोकस के साथ
ऑपरेटिंग सिस्टम विंडोज़ 10 होम या प्रोफेशनल
वारंटी वर्ष
कनेक्टिविटी 3जी एम्बेडेड (मांग पर 4जी उपलब्ध)
 सेंसर जीपीएस/जीपीएस
बैट्री 5,000 एमएएच
आई/ओ पोर्ट माइक्रो सिम/माइक्रो एसडी/माइक्रो यूएसबी
अनोखी

खूबियां 

फिंगरप्रिंट स्कैनर, बार कोड रीडर या एसएएम स्लॉट, स्मार्ट कार्ड रीडर
वजन 550 ग्राम

संपादकोंकेलिएनोट

50-word summary

भारत का प्रमुख आईसीटी हार्डवेयर उद्योग संघ- एमएआईटी, कंप्यूटर तकनीक में दुनिया की शीर्ष कंपनी- इंटेल और भारत के प्रमुख ओईएम में से एक डेटामिनी® ने साथ मिल कर आज  आधार कार्ड की सत्यता जांचने के लिए एसटीक्यूसी से मान्यता प्राप्त फिंगरप्रिंट स्कैनर से लैस टीपीओएस7 ‘जनउन्नति पैड’ के लॉन्च की घोषणा की, जिसका मकसद सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रमुख योजनाओं, जैसे- ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘मेक इन इंडिया’ का सहयोग करना है।

90-word summary

भारत का प्रमुख आईसीटी हार्डवेयर उद्योग संघ- एमएआईटी, कंप्यूटर तकनीक में दुनिया की शीर्ष कंपनी- इंटेल और भारत के प्रमुख ओईएम में से एक डेटामिनी® ने साथ मिल कर आज  टीपीओएस7 ‘जनउन्नति पैड’ के लॉन्च की घोषणा की, जिसका मकसद सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रमुख योजनाओं, जैसे- ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘मेक इन इंडिया’ का सहयोग करना है। जनउन्नति पैड अपनी तरह का पहला इस्तेमाल में आसान और टच-इनेबल्ड मोबाइल उपकरण है, जिसमें कि आधार कार्ड की सत्यता जांचने के लिए एसटीक्यूसी से मान्यता प्राप्त फिंगरप्रिंट स्कैनर लगा है। इस तरह इस टैबलेट का इस्तेमाल सरकार की प्रमुख ई-गवर्नेंस पहलों, जैसे कि विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को उनके बैंक बचत खातों से जुड़े आधार कार्ड के माध्यम से डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट्स ट्रांसफर) को लागू करने में किया जा सकेगा।     

150-word summary

भारत का प्रमुख आईसीटी हार्डवेयर उद्योग संघ- एमएआईटी, कंप्यूटर तकनीक में दुनिया की शीर्ष कंपनी- इंटेल और भारत के प्रमुख ओईएम में से एक डेटामिनी® ने साथ मिल कर आज  टीपीओएस7 जनउन्नति पैडके लॉन्च की घोषणा की, जिसका मकसद सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रमुख योजनाओं, जैसे- ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘मेक इन इंडिया’ का सहयोग करना है। जनउन्नति पैड अपनी तरह का पहला इस्तेमाल में आसान और टच-इनेबल्ड मोबाइल उपकरण है, जिसमें कि आधार कार्ड की सत्यता जांचने के लिए एसटीक्यूसी से मान्यता प्राप्त फिंगरप्रिंट स्कैनर लगा है। इस तरह इस टैबलेट का इस्तेमाल सरकार की प्रमुख ई-गवर्नेंस पहलों को लागू करने में किया जा सकेगा। जैसे कि इसमें लगे फिंगर प्रिंट स्कैनर, पेमेंट कार्ड रीडर और बारकोड स्कैनर के जरिए विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को उनके बैंक बचत खातों से जुड़े आधार कार्ड के माध्यम से डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट्स ट्रांसफर)  किया जा सकेगा। इसका इस्तेमाल’प्रधानमंत्री जन-धन योजना’ (पीएमजेडीवाई) में, बैंकिंग सेवाओं को ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के गरीब लोगों तक पहुंचाने, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) की मजदूरी के भुगतान के लिए, ई-पीडीए (जन वितरण प्रणाली) के जरिए बीपीएल परिवारों तक सब्सिडी वाला अनाज पहुंचाने और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के तहत जन स्वास्थ्य सेवाओं की निगरानी जैसे कई कार्यों में भी किया जा सकता है।

# # #

एमएआईटी का परिचय

एमएआईटी की स्थापना वर्ष 1982 में की गई थी। इसका उद्देश्य वैज्ञानिक, शैक्षणिक तथा सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग को बढ़ावा देना, हार्डवेयर का प्रतिनिधित्व करना, प्रशिक्षण, शोध एवं विकास कार्य के साथ हार्डवेयर डिजाइन करना और भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग से संबंधित अन्य सेवाएं प्रदान करना है।  एमएआईटी के चार्टर में भारत के सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग को वैश्विक तौर पर प्रतिस्पर्धी बनाने के लिए विकसित करना, भारत में सूचना प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को बढ़ावा देना, देश के आर्थिक विकास में सूचना प्रौद्योगिकी की भूमिका को मजबूत बनाना, अंतर्राष्ट्रीय गठजोड़ के जरिए व्यापार को बढ़ावा देना, सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग में गुणवत्ता के प्रति चेतना बढ़ाना और भारत के सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग को वैश्विक स्तर के उद्योग में तब्दील करना शामिल है, जिससे कि इसका विश्व स्तरीय इस्तेमाल हो सके और एक बड़े वैश्विक बाजार का निर्माण हो सके। एमएआईटी को भारत में आईटी हार्डवेयर उद्योग की प्रगति और विकास में अहम भूमिका निभाने के लिए सरकार और उद्योग जगत, दोनों से मान्यता प्राप्त है। इसके अलावा यह सरकारी महकमों में आईटी उद्योग का एक मजबूत और असरदार प्रवक्ता बन कर भी उभरा है।

इंटेल का परिचय

इंटेल (नैसडैक: आईएनटीसी) सबसे अद्भुत अनुभवों को संभव बनाने के लिए तकनीक की सीमाओं का विस्तार करता है। इंटेल से संबंधित सूचनाएं और इसके 100,000 से अधिक कर्मचारियों के कार्यों के बारे में जानने के लिए इन लिंकों पर जाएं-www.newsroom.intel.com और

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: